घर में मशरूम की खेती कैसे करें | Mushroom Ki Kheti Kaise Karen

 

घर में मशरूम की खेती कैसे करें | Mushroom Ki Kheti Kaise Karen


Mushroom Ki Kheti Kaise Hoti Hai – आज के इस दौर में नौकरी ढूंढने से ज्यादा आसान खुद का स्टार्टअप शुरू करना है। 

अगर आपने सही तरीके से अपना बिजनेस शुरू किया है तो आप थोड़ी सी मेहनत करके बहुत सारा पैसा कमा सकते हैं और कई लोगों को रोजगार भी दे सकते हैं।  

आज हम बात करेंगे एक ऐसे ही व्यापार की जिसे आप घर में ही शुरू कर सकते हैं और इसके लिए आपको किसी हेल्पर की भी जरूरत नहीं पड़ेगी।


मशरूम की खेती Mushroom Ki Kheti Kaise Ki Jaati Hai

मशरूम एक ऐसी सब्जी है जिसमे प्रोटीन बहुत अधिक मात्रा में होता है। इसीलिए यह हमारे शाकाहारी घरों में सबसे ज्यादा खाया जाता है। 
 
इसकी डिमांड बहुत है लेकिन इसके सप्लायर बहुत कम है यही कारण है की यह महंगा बिकता है।

मशरूम के प्रकार


मशरूम हजारों प्रकार के होते हैं लेकिन इसकी खाने वाली किस्मों में पांच प्रकार की किस्म सबसे ज्यादा बिकती है और यही सबसे अच्छी मानी जाती है। 
 
जैसे बटन मशरूम, पैडी स्ट्रॉ, ढिंगरी मशरूम या आयस्टर मशरूम, दूधिया मशरूम, स्पेशल मशरूम।
 
दूधिया मशरूम साल भर उगाई जाती है, बटन मशरूम सर्दियों में अच्छी होती है जबकि आयस्टर मशरूम गर्मियों में अच्छी होती है। इस तरह आप साल भर डिफरेंट वैरायटी की मशरूम उगा सकते हैं।

मशरूम की खेती के लिए जरूरी चीजें


मशरुम की खेती अगर आप अपने घर में कर रहें हैं तो कम से कम 10,000 में आप इसको शुरू कर सकते हैं। 
 
इसके लिए आपको चाहिए होगा एक 10*10 फीट का कमरा जहां धूप ना जा पाए। इसके अलावा धान का भूसा, प्लास्टिक की बोरी या लकड़ी का खाँचा, पानी स्प्रे करने की बॉटल, मशरुम के बीज।

कैसे करें शुरू मशरुम की खेती


सबसे पहले आपको एक कंपोस्ट बनाना होगा, क्योंकि बिना कंपोस्ट के मशरुम नहीं उग सकता। 
 
कंपोस्ट बनाने के लिए सबसे पहले आपको धान या गेंहू के भूसे को 1 कुंतल लेना पड़ेगा और फिर उसमें 1500 लीटर पानी, 1.5 kg फार्मलीन और 150 ग्राम बेवस्टीन मिलाकर भिगो देते हैं और इसे ढककर रख देते हैं। 
 
कुछ समय बाद यह भूसे को निकाल लेते हैं, इसके बाद इसे कुछ दिन सुखाया जाता है। 
 
यही है कंपोस्ट, फिर इसको बोरों में भरकर रख देते हैं और इस बोरे में कट लगाकर बीज डाल देते हैं। 
 
अगर आप यह सब नहीं करना चाहते तो यह कंपोस्ट बनी बनाई बाजार या कृषि केंद्रों में मिल जाती है।

मशरुम की बुवाई कैसे करें


जब आपकी कंपोस्ट तैयार हो जाए तो उसे पॉलीथिन के पैकेट या प्लास्टिक की बोरी में भरकर टांग दें। 
 
बोरी में बीच बीच में कट लगा दें ताकि नमी निकल जाए और जो मशरुम निकलेंगे वो इन्हीं कटे हुए स्थानों और ऊपर से निकलेंगे। 
 
बोरी में कंपोस्ट भरते वक्त कई सारी लेयर बनाएं और हर लेयर में मशरूम के बीज डालें।

कमरे की नमी और तापमान


जिस कमरे में आप मशरुम लगा रहें हैं वहां का तापमान 20 से 35 °C के बीच ही होना चाहिए। जबकि कमरे की नमी 70 से 80 % तक होनी चाहिए।
 

मशरूम की कटाई और पैकिंग


मशरूम लगभग 40 दिन में तैयार हो जाता है फिर आप इसे काट कर पॉलीथिन के सील पैक थैले में रख दें, ताकि ये खराब न हो। 
 
एक बार सील पैक होने पर यह 7 से 8 महीने तक खराब नहीं होता। इसको हमेशा 5 से 10°C के बीच ही भंडारण करना चाहिए।

मशरुम के बीज कहां से खरीदें और मशरुम के बीजों की कीमत


मशरुम के बीज आप किसी भी कृषि संस्थान, कृषि केंद्र, कृषि विश्वविद्यालय या बीज भंडार की दुकान से भी खरीद सकते हैं। 
 
बीज करीब करीब 80 से 100 रुपए प्रती किलोग्राम मिलता है। इसको खरीदने के बाद बीजों को 40 से ऊपर के तापमान में ना रखें अन्यथा बीज सड़ने लगेंगे।

मशरूम को कहां बेचें


यह सबसे जरूरी हिस्सा है किसी भी बिजनेस का, क्योंकि जब तक सामान बिकेगा नहीं तब तक मुनाफा कैसे होगा। 
 
1) आस पास की ग्रॉसरी शॉप्स या दुकानों को आप बेंच सकते हैं। पहले मार्केट का रेट पता कर लीजिए और फिर उससे थोड़ा सा सस्ता करके आप अपना मशरूम आसनी से बेंच सकते हैं। 
 
2) आस पास के रेस्टोरेंट या होटल से आप संपर्क करके उनको मशरूम बेंच सकते हैं। 
 
3) आस पास के जो वेंडर्स हों उनको भी आप मशरूम बेंच सकते हैं।
 
4) आप सोशल मीडिया पर प्रमोशन करके अपना मशरूम बड़ी ही आसानी से और बड़ी मात्रा में बेंच सकते हैं। 
 
5) आप अपने मोहल्ले या आस पास के घरों में पंपलेट्स लगवा कर या उनको व्हाट्स एप के जरिए भी मार्केटिंग करके बहुत ही आसानी से मशरूम बेंच सकते हैं।

मशरूम की खेती के लिए ट्रेनिंग कहां से लें


मशरूम की खेती से जुड़ी सारी जानकारी और ट्रेनिंग लगभग सारे सरकारी कृषि विश्वविद्यालय और आपके शहर के कृषि संस्थान प्रदान करते हैं वो भी मुफ्त में। 
 
कृषि विज्ञान केंद्रों में आपको 14 दिन का प्रशिक्षण दिया जाता है और फिर एक प्रमाण पत्र भी प्रदान किया जाता है। 
 
अगर आपको इसके लिए लोन चाहिए तो केंद्र आपको उसकी भी सहायता प्रदान करता है। 
 
सरकार मशरूम की खेती के लिए सब्सिडी भी प्रदान करती है जो महिलाओं के लिए 50% और पुरूषों के लिए 40% तक है। 
 
इसके अलावा सरकार आपको मशरूम की खेती के लिए 1 लाख से लेकर 10 लाख तक की लोन सहायता भी एमएसएमई के जरिए प्रदान करती है।
 

मशरुम की खेती से कमाई


अब आते हैं प्रॉफिट पर की हम एक 10*10 फीट के कमरे से कितना मशरुम उगा सकते हैं। 
 
एक कमरे से आप एक सीजन में लगभग 1,000 किलो मशरुम उगा सकते हैं। मशरुम की कीमत इस वक्त 200 से 300 रुपए किलो चल रही है। 
 
अगर आपने 250 रुपए के हिसाब से भी बेचा तो आपको मिलेगा 250*1,000= 2,50,000
 
इसमें आप अपनी लागत और मेहनत हटा दें तो आपको लगभग 2,00,000 रुपए मिलता है वो भी प्रति सीजन और यदि आप तीन सीजन में खेती करते हैं तो आप 6,00,000 रुपए बड़ी आसानी से कमा सकते हैं। 
 
अगर आपने हर सीजन में उगने वाली मशरूम लगाई तो आप की कमाई दसियों लाख में हो सकती है।
 
मशरूम की खेती की अधिक जानकारी के लिए आप अपने शहर के कृषि विश्वविद्यालय या कृषि केंद्रों में संपर्क कर सकते हैं। जहां आपको एक एक जानकारी बड़ी ही सावधानी से बताई जायेगी।
 
 
👇👇👇 


👆👆👆

1 thought on “घर में मशरूम की खेती कैसे करें | Mushroom Ki Kheti Kaise Karen”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top