अद्भुत संयोग: टेस्ट में जब भारत के सभी 11 खिलाड़ियों ने करी थी गेंदबाजी!

jab sabhi 11 khiladiyo ne gendbaji karwayi, What are some fun facts about cricket, Do you know facts about cricket


 

टेस्ट क्रिकेट को ही असली क्रिकेट माना जाता है, टेस्ट क्रिकेट में ही खिलाड़ियों के असली कौशल की परीक्षा होती है। कोई भी खिलाड़ी तभी श्रेष्ठ माना जाता है जब वह टेस्ट मैच में भी बेहतरीन प्रदर्शन करे। 

बहुत से आश्चर्यजनक कीर्तिमान बने हैं टेस्ट मैच में। जैसे जिम लेकर और अनिल कुंबले द्धारा एक पारी में 10 के 10 विकेट लेना, डॉन ब्रैडमैन का 99.9 का टेस्ट औसत, मुरलीधरन द्वारा 800 टेस्ट विकेट, कुमार संगकारा और जयवर्धने द्वारा 624 रन की पार्टनरशिप, द्रविड़ और लक्ष्मण की ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध फॉलोऑन देने के बाद खेली गई हैरतंगेज पारी, ब्रायन लारा की 400 रन की पारी ईत्यादि। 

आज हम एक टेस्ट की बात करेंगे जिसमें टीम के सभी 11 खिलाड़ियों ने गेंदबाजी करी थी। चौंक गए ना!

जी हां, यह बिलकुल सच है और ऐसा एक बार नहीं 4 बार हुआ है। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में 4 बार ऐसा हुआ है जब टीम के सभी 11  खिलाड़ियों ने गेंदबाजी की है। 

 


1884 का इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया का मैच


ओवल में खेले गए इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 551 रन बनाए। इस पारी में इंग्लैंड के सभी 11 खिलाड़ियों ने गेंदबाजी की थी। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से इस पहली पारी में 3 शतक लगे।

 

Percy McDonnell ( 103 ), Billy Murdoch ( 211 ) और Tup Scott ( 102 ) ने शतक ई थे। इस पारी में इंग्लैंड की तरफ से सभी 11 खिलाड़ियों ने गेंदबाजी करी और Alfred Lyttelton ने सर्वाधिक 4 विकेट लिए। 

 

इंग्लैंड अपनी पहली पारी में सिर्फ 346 रन बना पाया और उसे फॉलोऑन खेलना पड़ा। इंग्लैंड ने अपनी दूसरी पारी में 2 विकेट के नुकसान पर 85 रन बनाए और इस तरह यह टेस्ट ड्रॉ हो गया।

 


1980 ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान का मैच


फैसलाबाद में खेले गए इस टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 617 का विशाल स्कोर बनाया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से दो शतक लगे। 

 

Greg Chappell ने 235 रन बनाए और Graham Yallop ने 172 रन बनाए। पकिस्तान की तरफ से तौसीफ अहमद और वसीम रजा ने 3-3 विकेट लिए। 

 

पकिस्तान ने अपनी पहली पारी में बेहद धीमी बल्लेबाजी करते हुए 2 विकेट के नुकसान पर 382 रन बनाए। जिसमें तस्लीम आरिफ ने 210 और जावेद मियांदाद ने 106 रन बनाए। 

 

पकिस्तान की इस पारी में ऑस्ट्रेलिया ने सभी 11 खिलाड़ियों से गेंदबाजी करवाई। सिर्फ 2 पारी का यह टेस्ट मैच भी ड्रॉ हुआ। 

 


2002 भारत और वेस्टइंडीज का मैच


सन् 2002 में एंटीगुआ में सौरव गांगुली की कप्तानी में खेले गए इस मैच की पहली पारी में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए  9 विकेट के नुकसान पर 513 रन बनाए। 

 

इस पारी में भारत की तरफ से 2 शतक और 2 अर्ध शतक लगे। वीवीएस लक्ष्मण ने 130 और अजय रात्रा ने 115 रन बनाए जबकि वसीम जाफर ने 86 और राहुल द्रविड़ ने 91 रन बनाए।  

 

वेस्टइंडीज की तरफ से Mervyn Dillon, Cameron Cuffy और Pedro Collins ने 3-3 विकेट्स लिए। वेस्टइंडीज ने अपनी पहली पारी में जबर्दस्त बल्लेबाजी करते हुए 9 विकेट्स के नुकसान पर 629 रन बनाए। 

 

वेस्टइंडीज की तरफ से 3 शतक और 2 अर्ध शतक लगे। Carl Hooper ( 136 ) Shiv Narayan Chanderpaul ( 136 ) Ridley Jacobs ( 118 )  ने शतक मारे जबकि Wavell Hinds ( 65 ) और Ramnaresh Sarwan ( 51 ) ने अर्धशतक मारे। 

 

वेस्टइंडीज की इस पारी में भारत के सभी 11 खिलाड़ियों ने गेंदबाजी करी। भारत की तरफ से सचिन तेंदुलकर, वसीम जाफर और जहीर खान ने 2-2 विकेट्स लिए। इस टेस्ट में राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण को भी 1-1 विकेट मिला। यह टेस्ट भी ड्रॉ हुआ। 

 


दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज टेस्ट 2005


दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज के बीच सेंट जॉन्स स्टेडियम में सन् 2005 में खेला गए इस मैच में दक्षिण अफ्रीका ने चार शतको की मदत से 588/6 रन बनाए। 

 

चार शतक एबी डिविलियर्स ( 114 ), ग्रीम स्मिथ ( 126 ), जैक कैलिस ( 147 ) और अश्वेल प्रिंस ( 131 ) ने लगाए। वेस्टइंडीज की तरफ से डेरेन पॉवेल ने सर्वाधिक 2 विकेट लिए।

 

वेस्टइंडीज ने बहुत ही धमाकेदार जवाब देते हुए 757 रन बनाए। जिसमे क्रिस गेल ने 317 रन, राम नरेश शरवन ने 127 रन, शिव नारायण चंद्रपाल ने 127 रन और ड्वेन ब्रावो ने 107 रन बनाए। 

 

इस इनिग्स में अफ्रीका के सभी 11 खिलाड़ियों ने गेंदबाजी कराई। जिसमे Monde Zondeki ने सर्वाधिक 3 विकेट्स लिए। इस इनिंग्स में ग्रीम स्मिथ और एबी डिविलियर्स ने भी 2-2 विकेट्स लिए। 

साउथ अफ्रीका ने अपनी दूसरी पारी में 127/1 रन बनाए और इस तरह यह मैच ड्रा समाप्त हो गया।


इस तरह टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में 4 बार ही ऐसा हुआ जब सभी 11 खिलाड़ियों ने गेंदबाजी करी। 

 

 

 

👇👇👇

 


क्या सच में पपीते के पत्ते का रस पीने से प्लेटलेट्स बढ़ जाते हैं! जानिए क्या कहता है मेडिकल साइंस

 

👆👆👆 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top