आकाश में सबसे चमकीला ग्रह कौन सा है | Sabse Chamkila Grah Kaun Sa Hai

 

आकाश के सबसे चमकीले तारे का नाम क्या है


Sabse Chamkila Grah Kaun Sa Hai रात के आकाश में हमें बहुत से चमकदार तारे दिखाई देते हैं। 
 
अगर हम तुलना करें तो सूर्य के बाद चंद्रमा सबसे चमकदार दिखाई देता है और चंद्रमा के बाद शुक्र ग्रह और फिर गुरू ग्रह सबसे चमकदार रात में दिखाई देते हैं। 
 
लेकिन शुक्र और गुरू तारे नहीं हैं बल्कि ग्रह हैं। अगर हम तारे की बात करें तो शुक्र और गुरू के बाद एक तारा ऐसा है जो सबसे चमकदार दिखाई देता है। 
 
क्या आपको पता है की हमारे आकाश में दिखाई देने वाला यह सबसे चमकीला तारा कौन सा है और पृथ्वी से कितनी दूर है, आईए जानते हैं
 

आकाश में सबसे चमकीला तारा

रात में आकाश में दिखाई देने वाला सबसे चमकीला तारा Sirius A है इसका दूसरा नाम डॉग स्टार है। संस्कृत में इसे मृगव्याध, व्याध या लुब्धक भी कहते हैं। 
 
Sirius A हमारी पृथ्वी से 8.6 प्रकाश वर्ष की दूरी पर है, इसका मतलब यह हुआ कि यादि हम प्रकाश की गति से यात्रा करें तो हमको इस तारे तक पहुंचने में 8.6 साल लग जायेंगे।
 
Sirius A तारा उत्तरी गोलार्ध में ठंड में काफी बड़ा दिखाई देता है। Sirius A स्टार आने वाले 60,000 वर्षों में और भी चमकदार होता जायेगा क्योंकि यह हमारे सौर मंडल की तरफ ही आ रहा है। 
 
Sirius A हमारे सूर्य से दो गुना अधिक भारी है और इसका प्रकाश हमारे सूर्य से 25 गुना अधिक तेज है। Sirius A तारा ओरियन बेल्ट के बाएं तरफ आकाश में दिखाई देता है।
 
Sirius A स्टार Canis Major तारामंडल में स्थित है। Sirius एक बाइनरी स्टार सिस्टम का तारा है। 
 
बाइनरी स्टार सिस्टम में सिर्फ दो तारे होते हैं जो एक दूसरे के चक्कर लगाया करते हैं। 
 
Sirius बाइनरी स्टार सिस्टम में दो तारे हैं Sirius A और Sirius B तारा। Sirius का बाइनरी स्टार सिस्टम 300 मिलियन साल पुराना है।
 
Sirius B तारा अब एक सफ़ेद बौना (White Dwarf Star) बन चुका है जबकि Sirius A तारा जो सबसे चमकदार दिखाई देता है वो आने वाले कुछ लाख सालों में सफेद बौना तारा बन जाएगा। 
 
Sirius B का तापमान लगभग 24926°C है और आने वाले कुछ लाख सालों में यह तापमान कम होते होते शून्य हो जाएगा। 
 
जबकि Sirius A का तापमान 9666°C है। Sirius A तारे में अभी हाइड्रोजन ईंधन जल रहा है।
 
Sirius A की चमक -1.46 है जिसकी वजह से यह सबसे चमकदार दिखाई देता है और आने वाले 60,000 वर्षों में जैसे जैसे यह हमारे पास आता जाएगा इसकी चमक की वैल्यू बढ़कर -1.68 हो जायेगी और फिर धीरे धीरे इसकी चमक कम होती जायेगी क्योंकि इसके अंदर का ईंधन (Nuclear Fusion of atoms) खत्म हो जाएगा। 
 
ऐसा होने में करीब 2,10,000 साल लग जायेंगे और फिर दूसरा सबसे चमकदार तारा Vega जो की Sirius की तरह ही टाईप A स्टार है वो आकाश का सबसे चमकदार तारा होगा।
 
Sirius B पहले Sirius A से बड़ा था लेकिन जब इसका ईंधन यानी की हाइड्रोजन खत्म हो गया तो यह लाल दानव (Red Giant Star) बन गया और 120 मिलियन लाख साल पहले अपनी बाहरी परत को को छोड़कर एक छोटा सफेद बौना तारा बन गया।
 
आगे आने वाले समय में Sirius A तारे का भी Sirius B तारे जैसा हाल होगा। अगर इन दोनों का द्रवमान अधिक होता तो ये ब्लैक होल बन जाते लेकिन यह तारे ब्लैक होल बनने के मापदंड को पूरा नहीं करते हैं।
 
 

👇👇👇 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top