केले के पत्ते का उपयोग थाली के रूप में क्यों किया जाता है

 

kele ke patte par khana


 

केला एक ऐसा फल है जो कई गुणों से भरपूर होता है। हमारे ग्रंथों में केले के पेड़ की बहुत ऐहमियत दी गई है। पूजा और हवन में केले के पत्ते का उपयोग बहुत ही शुभ माना जाता है। 

इसे भगवान् विष्णु का प्रिय पेड़ भी कहा जाता है। वास्तु के हिसाब से भी घर के सामने केले का पेड़ लगाना शुभ माना जाता है।आपने देखा होगा कि भारत के कई हिस्सों में लोग केले के पत्ते पर भोजन करते है और ये उनको परंपरा का एक हिस्सा होता है। 

केले के पत्ते पर खाना खाना ना केवल भोजन का स्वाद अच्छा करता है बल्कि इसके कई अन्य भी फायदे होते है। आजकल तो कई होटल और रेस्टोरेंट भी केले के पत्ते पर भोजन देने लगे हैं। 

 

केले के पत्ते पर भोजन करने से क्या क्या फायदे होते हैं।


1) केले का पत्ता पॉलीफेनोल्स से भरपूर होता है। पॉलिफिनॉल एक नेचुरल एंटी आक्सिडेंट होता है जो कि शरीर को बीमारियों से बचाता है। केले के पत्ते में मौजूद पॉलिफिनॉल हम सीधे नहीं ले सकते लेकिन जब हम खाने को केले के पत्ते में परोसते है तो केले के पत्ते में मौजूद पॉलिफिनॉल हमारे भोजन में मिल जाता है 
 

जो कि खाने के माध्यम से हमारे शरीर में पहुंच जाता है। ये एंटी आक्सिडेंट हमारे शरीर को बहुत सी बीमारियों से बचाता है। केले के पत्ते में एंटी बैक्टेरियल गुण भी पाया जाता है और ये माना जाता है कि केले के पत्ते में भोजन खाने से ये भोजन में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म कर देता है।

 
2) केले के पत्ते पर खाना खाने से खाने का स्वाद बड़ जाता है और इसका कारण है केले के पत्ते पर पाई जाने वाली मोम की परत। केले के पत्ते पर मोम की एक हल्की सी परत पाई जाती है और जब हम गर्मागर्म भोजन केले के पत्ते पर परोसते हैं तो वो मोम की परत भोजन में मिल जाती है और इससे भोजन का स्वाद बड़ जाता है।

3) केले के पत्ते पर भोजन करना पर्यावरण के हिसाब से बहुत अच्छा होता है, क्युकी अगर हम प्लास्टिक या इससे बनी किसी चीज में भोजन ग्रहण करेगें तो ये हमारे पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंचायेगी। 
 
क्यूंकि इनको डिकंपोज करना बहुत मुश्किल है जबकि केले का पत्ता आसानी से डीकंपोज हो जाता है और आजकल तो इसे डीकंपोस करके खाद भी बनाई जा सकती है।
 
4) बर्तन को धोने में काफी पानी बर्बाद होता है जबकि केले के पत्ते को सिर्फ गीले कपड़े से पोंछ कर या बहुत ही कम पानी से धो कर उपयोग में लाया जा सकता है। इसके अलावा जब हम किसी प्लास्टिक के बर्तन या एल्यूमिनियम के बर्तन का इस्तेमाल करते हैं 
 
तो प्लास्टिक के केमिकल या एल्यूमिनियम के तत्व हमारे भोजन के माध्यम से हमारे शरीर में प्रवेश कर जाते हैं, जो कि हमारे शरीर के लिए बहुत ही नुकसान दायक होते हैं।

5) केले के पत्ते पर भोजन करना हमारे स्किन के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। केले के पत्तों में काफी मात्रा में एपिगालोकैटचिं और ईजीसीजी जैसे पॉलीफेनोल्स पाए जाते हैं जो की आपके स्किन के लिए बहुत फायदमंद होते है। इसके लगातार सेवन से आपकी स्किन निखर कर सामने आएगी।

6) खाने के अलावा केले के पत्ते के फाइबर से चटाई, दरी एवम पेपर आदि भी बनाया जाता है।

7) केले के पत्ते पर भोजन जल्दी खराब नहीं होता इसीलिए कई जगहों पर भोजन को केले के पत्ते पर लपेट के दिया जाता है। यह खाने के पौष्टिक गुणों को बरकरार रखता है।

8) फोड़े या फुंसी होने पर केले के पत्ते में नारियल का तेल लपेटकर लगाने से स्किन से संबंधित परेशानी से निजात मिलती है।
 


यह भी पढ़े 👇👇👇
 
 
 
 
 
 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top