क्या हम आज के विज्ञान कि सहायता से आयरन मैन जैसा सूट बना सकते हैं

 

iron men


आयरन मैन मूवी देखने के बाद सबके मन में एक ही सवाल था की क्या आयरन मैन का सूट बनना संभव है या आयरन मैन सूट कैसे बनाये, काश ऐसा सूट मिल जाए तो मजा आ जाए।  
 
पर शायद आपको ये नहीं पता कि ये सूट बनना लगभग असम्भव है। 
 
शायद आपको ये सुनकर बड़ी निराशा हुई होगी लेकिन सच्चाई यही है की ऐसा सूट बनना अभी तक तो असम्भव है। 
 
 

असम्भव है आयरन मैन जैसा सूट बनाना


आयरन मैन का सूट अनेक विशेषताओं से भरा हुआ है और आज का साइंस इन सब की विशेषताओं के करीब भी नहीं है।

1) टोनी स्टार्क के सूट में एक ऐसा पॉवर सोर्स है जो उसको लगातार ऊर्जा देता रहता है। 
 
उसका आर्क रिएक्टर जो कि उसके सूट में सीने के पास लगा है और वो भी इतना छोटा सा। 
 
जितना काम टोनी स्टार्क का ये सूट करता है उतना काम करने के लिए एक ऐसे ऊर्जा सोर्स की जरूरत होगी जो सिर्फ एक परमाणु रिएक्टर ही दे सकता है। 
 
और हमारे साइंस ने अभी तक इतनी तररकी नहीं किया है कि वो इतना छोटा रिएक्टर बना सके वो भी हमारे शरीर को बिना नुकसान किए हुए। 
 
अगर ऐसा सूट बन भी जाए तो ऊर्जा देने के लिए आयरन मैन को तीन मंजिला बॉक्स अपने साथ लेकर चलना होगा। 
 
फिर वो बाकी काम कैसे कर पाएगा जैसे दुश्मन से लड़ना या किसी को बचाना क्युकी उसका सारा ध्यान तो ऊर्जा सोर्स में ही लगा रहेगा। 
 

2) टोनी स्टार्क का सूट बहुत ही अपग्रेडेड मटेरियल से बना हुआ है जो कि किसी भी मिसाईल, गोली, या राकेट के वार झेल लेता है और उस पर आग पानी का कोई असर नहीं होता। 
 
भले ही टोनी ने इसको आयरन मैन नाम दिया हो लेकिन ये आयरन से नहीं बना है। 
 
अभी हमारी साइंस के पास ऐसा कोई मटेरियल नहीं है जो इतना हल्का हो और साथ में इतना मजबूत। 
 
इसके अलावा एक बात और है जो इस सूट को ख़ास बनाती है वो है इसकी शॉक वेव झेलने की क्षमता। 
 
अगर कोई नॉर्मल सूट पर कोई मिसाईल का वार करे तो सूट के अंदर का इंसान शॉक वेव से ही मर जाएगा।
 

3) टोनी स्टार्क का सूट ध्वनि से भी तेज गति से चलता है और आसमान में आसानी से आ-जा सकता है। 
 
आपने एवेंजर्स में देखा ही होगा कि कैसे वो धरती के ऊपर हुए छेद से मिसाईल ले जा कर वो छेद बंद कर देता है जिससे कि दूसरे ग्रह के प्राणियों का धरती पर आना बंद हो जाता है। 
 
हमारा साइंस अभी तक अंतरिक्ष में सिर्फ रॉकेट है भेज पाया है वो भी बहुत सी सावधानियों के साथ और हल्की सी भी गलती उस रॉकेट के परखच्चे उड़ा सकती है 
 
जैसा आपने कोलंबिया मिशन में देखा होगा कि कैसे कल्पना चावला का रॉकेट सिर्फ एक छेद की वजह से आकाश में ही नष्ट हो गया था। 
 
इतनी स्पीड और वायु दाब के कारण सूट और उसके अंदर इंसान के परखच्चे उड़ जायेंगे।
 

4) टोनी स्टार्क के सूट की सबसे बड़ी खासियत है जार्विस ( आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) जो कि टोनी स्टार्क की हर बात का जवाब देता है वो भी तथ्यों पर आधारित। 
 
विश्व ने तो अभी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पे काम करना शुरू किया है जबकि टोनी स्टार्क का जार्विस बहुत ही उन्नत किस्म का आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस है। 
 
जार्विस जैसा कोई AI बनाना अभी सपना ही है। 
 
5) टोनी स्टार्क ने आयरन मैन सूट को इस तरह डिजाइन किया है जिससे वो बहुत ही आसानी से उड़ सके और साथ ही बहुत से परमाणु बमों को झेल सके। 
 
जैसा कि आपने एंड गेम में देखा ही होगा कि कैसे वो पांच रत्नों को धारण कर लेता है और चुटकी बजा देता है। 
 
उस जगह अगर कोई नॉर्मल इंसान या सूट होता तो शायद उसकी राख भी ना मिलती। 
 
यहां तक कि थायनोस ने भी जब वो फिंगर स्नैप की थी तो उसका भी आधा शरीर जल गया था और वो कुछ भी करने की स्तिथि में नहीं बचा था।

अब तो आप समझ गए होंगे कि आयरन मैन जैसा सूट बनना असम्भव है। 
 
हां अगर कोई टोनी स्टार्क जैसे दिमाग वाला व्यक्ति हो जाए तो वो जरूर ऐसा सूट बना सकता है।
 
शायद इसलिए टोनी स्टार्क इतना अटिट्यूड में रहता है क्युकी उसको पता है कि वो है असली आयरन मैन
 
 
 
यह भी पढ़े 
 
👇👇👇
 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top