जब इन्दिरा गांधी ने विपक्ष की रैली रोकने के लिए दूरदर्शन पर चलवा दी थी बॉबी मूवी, जानिए रोचक तथ्य

 

indira gandhi aur babu jagjeevan ram, indira gandhi aur unse judi rochak kahani, bobby movie ke intresting facts

नेता अपनी रैली में भीड़ जुटाने के लिए नई-नई तरकीब अपनाते हैं। इसके अलावा अपने विपक्षी नेता की रैली या सभा फ्लॉप करने के लिए भी कुछ ना कुछ तिकड़म भिड़ाया करते हैं। 
 
आज हम कुछ ऐसी ही दिलचस्प घटना के बारे में बताएंगे जब इन्दिरा गांधी ने “जगजीवन राम” की रैली को फ्लॉप करने के लिए दूरदर्शन पर चलवा दी थी मूवी “बॉबी”
 

जगजीवन राम कांग्रेस के एक बहुत बड़े नेता थे। वह स्वतंत्र भारत के प्रथम “लेबर मिनिस्टर” थे और 1971 के भारत पकिस्तान के युद्ध के समय भारत के रक्षा मंत्री भी थे। इन्हीं के रक्षा मंत्री होते हुए बांग्लादेश आजाद हुआ था। 
 
इन्होंने सन् 1977 में कांग्रेस छोड़ दिया था और “जनता पार्टी” में शामिल हो गए थे। उस वक्त ये भारत के सबसे बड़े नेताओं में से एक थे। लोग इनको मीलों दूर से सुनने आते थे और इनका जनता में काफी सम्मान था। 
 
इन्होनें चुनाव के कुछ  दिन पहले दिल्ली के राम लीला मैदान में कांग्रेस के विरुद्ध रैली का आयोजन किया था। जिसमे लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा था। लाखों लोग उस रैली में शामिल हुए थे। 
 
आप लोगों की भीड़ का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं की मशहूर पत्रकार कुमी कपूर ने अपनी पुस्तक ” द इमरजेंसी – अ पर्सनल हिस्ट्री ” में लिखा है की अटल बिहारी बाजपाई की दत्तक पुत्री नमिता भट्टाचार्य जब रैली की तरफ जा रही थीं तो उन्हें लगातार कुछ आवाजें सुनाई दे रहीं थीं।
 
उन्होने टैक्सी ड्राइवर से पूछा की ये किस चीज की आवाज है तो ड्राइवर ने बताया कि यह लोगों के पैदल चलने की आवाज है।
 

बॉबी मूवी क्यों चलवाई गई


बॉबी मूवी सन् 1973 में आई थी और उस मूवी को लेकर युवाओं से लेकर बुजुर्गों में कई सालों तक जबर्दस्त क्रेज था। उस वक्त मोबाईल फोन या मनोरंजन के अन्य साधन नहीं होते थे। 
 
दूरदर्शन और रेडियो ही मनोरंजन के मुख्य साधन हुआ करते थे। प्रत्येक रविवार को दूरदर्शन पर चार बजे मूवी दिखाई जाती थी। जिसको भारतीय जनता सारा काम धाम छोड़कर देखती थी। 
 
बॉबी मूवी में डिंपल कपाड़िया और ऋषि कपूर ने काम किया था और यह मूवी उस वक्त के हिसाब से काफी बोल्ड मूवी मानी जाती थी। लोग इसको देखना बहुत पसंद करते थे। 
 
जगजीवन राम की रैली भी रविवार को थी और लोगों की भीड़ बढ़ती जा रही थी। हर तरफ सिर्फ लोग ही लोग दिखाई दे रहे थे। 
 
यह इन्दिरा गांधी के लिए बहुत ही चिन्ता की बात थी क्योंकि अगर विपक्ष की रैली में इतने लोग जायेंगे तो इंदिरा गांधी को आने वाले चुनाव में झटका लग सकता था। 
 
इसलिए इन्दिरा गांधी ने जगजीवन राम की रैली को फ्लॉप करने के लिए एक चाल चली। उस दिन रविवार को चार बजे “वक्त” मूवी दूरदर्शन पर आने वाली थी। 
 
लेकिन इन्दिरा गांधी के कहने पर अचानक सूचना और प्रसारण मंत्री विद्याचरण शुक्ल ने वक्त की जगह बॉबी मूवी चलाने का आदेश दे दिया और साथ में ही प्रसारण का समय पांच बजे कर दिया गया ताकि लोग रैली में ना जाकर घर में ही बॉबी देखें।
 

क्या बॉबी ने रैली रोकी 


इन्दिरा गांधी का यह मास्टर स्ट्रोक काम नहीं कर सका और जनता बॉबी के चक्कर में नहीं फंसी। यह मूवी भी जनता को रैली में जानें से नहीं रोक पाई। 
 
लाखों लोग इस रैली में शामिल हुए। बूढ़े से लेकर जवान तक इस रैली का हिस्सा बनें यहां तक की इन्दिरा गांधी ने रामलीला मैदान के आस पास बसों और लोकल सवारियों तक भी रोक लगा दी थी। 
 
इन रोकों के बावजूद लोग बड़ी संख्या में पैदल चलकर रामलीला मैदान पहुंचे। रैली के अगले दिन सभी न्यूज पेपर की हेड लाईन इसी के ऊपर थी। 
 
एक इंग्लिश न्यूज पेपर ने हेडलाइन दी थी की ” Babu Beats Bobby ” जगजीवन राम को लोग प्यार से बाबू जी बुलाते थे।
 
 
 
👇👇👇
👆👆👆

1 thought on “जब इन्दिरा गांधी ने विपक्ष की रैली रोकने के लिए दूरदर्शन पर चलवा दी थी बॉबी मूवी, जानिए रोचक तथ्य”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top