रात को खींची फ़ोटो में आंखों में लाल रंग क्यों दिखाई देता हैं

 

red eye during photo click


जब भी हम रात में फोटो खींचते हैं तो फोटो में ज्यादातर हमारी आंखें लाल रंग की नजर आती हैं। इसको देख कर कई लोग डर जाते हैं और कई लोग इसे मजाक के तौर पर लेते हैं। आज हम आपको बताएंगे की ऐसा क्यों होता है और इसके पीछे का साइंस क्या है।



फोटो में आंखे लाल आने के पीछे पूरा खेल प्रकाश का है। हमारी आंखे इस तरह बनी होती हैं की ये ज्यादा प्रकाश पड़ने पर सिकुड़ती हैं और कम प्रकाश में फैलती हैं। 
 
आंखो की पुतली का फैलने या सिकुड़ने के पीछे ये कारण होता है की हमारी आंख में समुचित प्रकाश ही जाए, जिससे की हमें देखने में आसानी हो। रात के समय कम प्रकाश होने के कारण हमारी आंखों की पुतली फैली रहती है, ताकि ज्यादा प्रकाश जा सके। 
 
रात में फोटो खींचने पर पहले तो आंखो की पुतली फैली रहती है लेकिन जैसे ही कैमरे का फ्लैश पड़ता है पुतली सिकुड़ने की कोशिश करती है लेकिन फ़्लैश का प्रकाश इतनी तेजी से आता है की आंख की पुतलियों को सिकुड़ने का समय नहीं मिल पाता और पूरी रोशनी आंख के अन्दर चली जाती है। 
 
आंख के पीछे का हिस्सा जिसे कोरोइड Choroid कहते हैं वह रोशनी पड़ने पर लाल रंग का चमकने लगता है। यही कारण है की रात में ज्यादातर फोटो लेने पर आंखे लाल रंग की चमकती हैं। अगर आप फ्लैश बंद करेंगे तो यह लाल रंग नहीं दिखाई देगा।

फोटो में लाल आंखे आने से कैसे रोकें


आपको ये तो समझ में आ गया होगा की लाल आंखे क्यों आती हैं। आईए अब जानते हैं इसको रोकने के तरीके

आपको हमेशा फोटो पर्याप्त रोशनी में लेनी चाहिए और फ्लैश लाइट का इस्तमाल नहीं करना चाहिए।
 
यदि फ्लैश लाइट के अलावा कोई और रोशनी की वयवस्था ना हो तो आप फोटो खिंचवाते समय कैमरे की तरफ सीधा ना देखें
 
अगर आपके फोन या कैमरे में एंटी रेड आई फीचर हो तो उसे चालू कर लें।
 
अगर आप SLR कैमरा इस्तेमाल कर रहें हैं तो बाहरी फ्लैश लाइट का इस्तेमाल करें।
 
शराब या किसी अन्य मादक पदार्थ का सेवन करके भी फोटो खिंचवाने से रेड आई आ जाती है। क्योंकि शराब और अन्य मादक पदार्थ पुतलियों की कार्य क्षमता को प्रभावित करते हैं। जिससे की पुतलियां प्रकाश की तरफ सही से प्रतिक्रिया नहीं दे पातीं।
 
 
 
👇👇👇👇👇
 
👆👆👆👆👆

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top