शीशा खोल कर कार चलाने से आप हो सकते हैं बहरे, जानिए क्या हैं नुकसान

 

कार चलाने का सही तरीका, car chalane ka tarika, kar chalane ka tarika, kar chalane ka aasan tarika, कार चलाने का आसान तरीका, कार चलाने का तरीका बताएं, कार चलाने का तरीका, वाहन चलाने का तरीका, कार चलाने की तरीका

कई लोगों की आदत होती है की कार चलाते वक्त कार का शीशा खोल कर गाड़ी चलाते हैं। 
 
लेकिन क्या आपको पता है की कार का शीशा खोल कर गाड़ी चलाने के कई सारे नुकसान हैं। 
 
जैसे आपके सुनने की क्षमता कम हो जाती है या कई बार सुनने की क्षमता स्थाई रूप से प्रभावित हो जाती है। 
 
इसके अलावा आपकी गाड़ी का एवरेज भी कम हो जाता है। 
 
आईए जानते है कार के शीशे खोल कर गाड़ी चलाने से होने वाले नुकसान के बारे में
 
 

जी हां, बिल्कुल सही पढ़ा आपने कार का शीशा खोल कर गाड़ी चलाने से आपके सुनने की क्षमता पर स्थाई प्रभाव पड़ता है। 
 
शीशा खोल कर गाड़ी चलाने पर आपके कान लगातार 90 डेसीबल के शोर को झेलते हैं 
 
जो आपकी श्रवण क्षमता को नुकसान पहुंचाने के लिए पर्याप्त है। 
 
अगर आप 30 मिनिट्स लगातार इस शोर के संपर्क में रहें तो आपके कानों में नुकसान होना शुरू हो जाता है। 
 
जब कोई भारी वाहन आपके पास से गुजरता है और आपके शीशे खुले होते हैं तो यह आवाज 120 डेसीबल तक पहुंच जाती है। 
 
यही कारण है की जो जो लोग शीशा खोल कर कार चलाते हैं उनको टिनिटस ( कान में लगातार सीटी बजना) नामक बीमारी हो जाती है और आगे चलकर वो बहरे हो सकते हैं।
 
 

गाड़ी का एवरेज कम हो जाता है


आजकल के इस महंगाई के दौर में जब पेट्रोल और डीजल के दाम इतने अधिक हैं और इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल अभी इतने सस्ते नहीं हैं की जन सामान्य उनको खरीद सके तो तेल की बचत ही सबसे खास उपाय है। 
 
जब हम कार का शीशा खोल कर गाड़ी चलाते हैं तो हमारी कार को Aerodynamics के विरूद्ध कार्य करना पड़ता है 
 
जिसके कारण ईंजन पर अधिक प्रेशर पड़ता है और तेल की खपत अधिक होती है। 
 
कार का शीशा खोल कर गाड़ी चलाने से कार का एवरेज 5 km/L तक घट जाता है।
 
 

अस्थमा रोगियों के लिए घातक है शीशे खोल कर चलाना


जब हम गाड़ी का शीशा खोल कर गाड़ी चलाते हैं तो हम प्रदूषण के सम्पर्क में सीधे आ जाते हैं। 
 
क्योंकि चलती गाड़ी के कारण धूल और अन्य प्रदूषित कण हमारी कार में अधिक मात्रा में और वेग से आ जाते हैं। 
 
जिसके कारण वो हमारे फेफड़ों को नुकसान पहुंचाते हैं। 
 
अस्थमा के रोगी या एलर्जी के मरीजों के लिए तो यह बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। 
 
यह स्तिथि अस्थमा अटैक या एलर्जी अटैक की संभावना को बढ़ा देती है।
 
इन सबके अलावा यदि आप कार का शीशा बंद करके गाड़ी चलाते हैं तो आप सर्दी, गर्मी और वर्षा के सीधे संपर्क में आने से बच सकते हैं। 
 
कार के बंद शीशे आपकी सुरक्षा की दृष्टि से भी बहुत उपयोगी है।
 

नोट:-
कई लोगों को कार के बंद शीशे में घुटन होती है उसके लिए आप कार में एयर सर्कुलेटिंग सिस्टम को ऑन कर सकते हैं। 
 
हर कार में यह सिस्टम होता है जिसमे आप अंदर और बाहर की हवा के बीच तारतम्य बैठा सकते हैं।
 
 
 
👇👇👇


👇👇👇

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top