समुद्र का पानी पीने से मौत क्यों हो जाती है | हम समुद्र का पानी क्यों नहीं पी सकते हैं

 

samundra ka paani, samudra ka paani, sea water, sagar ka paani


हमारी पृथ्वी का 70% भाग पानी से ढका है कर इस 70% पानी का 97% समुंद्र और महासागर में है। 

लेकीन समुंद्र का पानी बहुत ही खारा होता है और इसे हम पीने के उपयोग में नहीं ला सकते। 

अगर हम समुंद्र या किसी ऐसी जगह फंस जाते हैं जहां पानी का एक मात्र सोर्स समुंद्र ही हो तो यह हमारे लिए बहुत ही खतरनाक स्थिति होती है। 

क्योंकि हम समुंद्र का पानी पी नहीं सकते और अगर हमनें समुन्द्र का पानी लगातार पी लिया तो हमारी मृत्यु निश्चित है। 

आईए जानते हैं की क्यों समुंद्र का पानी पीना इतना इतना खतरनाक होता है।


समुंद्र का पानी पीने से क्या होगा


समुन्द्र के पानी में खनिज और लवणों की मात्रा बहुत अधिक होती है खासकर सोडियम क्लोराइड। 

जब हमें प्यास लगी हो और हम समुन्द्र का पानी पी लेते हैं तो हमारा शरीर इतने सारे लवणों को न्यूट्रलाइज नहीं कर पाता। 

हमारे शरीर की कोशिकाएं सेमी पर्मिएबल होंती हैं। यानि की इसमें से पानी तो आसानी से सेल मेंब्रेन से पार हो जाता है लेकिन नमक पार नहीं जा पाता। 

ऐसे में सेल के बाहर बहुत ज्यादा नमक हो जाता है और हमारी कोशिका अपने अंदर का पानी बाहर निकाल कर इसकी भरपाई करने की कोशिश करती है।

जिससे की हमारे शरीर में पानी की और कमी हो जाती है और हमारे शरीर के कई अंग काम करना बंद कर देते हैं और हमारी मृत्यु हो जाती है। 

हमारी किडनी इतना सारा नमक बाहर करने के लिए लगातार फ्लूइड शरीर से बाहर निकालती रहती है लेकिन पानी ना होने कि वजह से किडनी भी काम नहीं कर पाती और फेल हो जाती है। 

इसके साथ ही इतना नमकीन पानी पीने से हमें उल्टी आने लगती है जिससे हमारे शरीर का पानी और इलेक्ट्रोलाइट्स बाहर निकल जाते हैं और हमको भयंकर तरीके से डिहाइड्रेशन हो जाता है। 

इसलिए अगर आप पानी की कमी से खुद की जान बचाने के लिए समुंद्र का पानी पियेंगे तो आपकी मौत और भी जल्दी हो जाएगी।


👇👇👇


तेल की खोज के पहले कैसा था सऊदी अरब में लोगों का जीवन! जानिए रोचक इतिहास।


👆👆👆

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top